तहलका पत्रिका ने बाल ठाकरे को बताया आतंकवादी, महाराष्ट्र में बवाल

shivsenaतहलका पत्रिका ने अपने ताजा अंक में शिवसेना के दिवंगत नेता बाला साहब ठाकरे को आतंकवादी बताया है। तहलका पत्रिका के कवर पेज पर छपी इस तस्वीर में दिवंगत शिवसेना सुप्रीमो बाल ठाकरे के ऐसे अपमान को लेकर महाराष्ट्र में बवाल मच गया है। महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने इस पर विरोध जताते हुए पत्रिका के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है।
दरअसल तहलका का ताजा अंक मुंबई हमलों के दोषी याकूब मेमन की फांसी पर आधारित है। पत्रिका के इस अंक में एक तस्वीर लगी है, जिसमें याकूब मेमन के साथ बाल ठाकरे को दिखाया गया है और इसे शीर्षक दिया गया है, ‘क्या आतंकवाद को लेकर हमारा नजरिया दोहरा है।’ मनसे का आरोप है कि इस लेख के जरिए पत्रिका ने बाल ठाकरे की छवि को एक आतंकवादी के साथ जोड़कर दिखाया है। मामले को लेकर मनसे ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। तहलका के हिंदी अंक में जहां बाल ठाकरे की तस्वीर को याकूब मेमन के साथ दिखाया गया है, वहीं पत्रिका के अंग्रेजी अंक में बाल ठाकरे को मेमन के अलावा खालिस्तानी आतंकी भिंडरेवाला और दाऊद इब्राहिम के साथ दिखाया गया है। मनसे कार्यकर्ता बाला नंदगांवकर ने इस मामले में शिकायत दर्ज कराते हुए कहा, ‘तहलका पत्रिका पर तुरंत प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए। इस पत्रिका ने दो संस्कृतियों के बीच दरार पैदा करने की कोशिश की है। पत्रिका के संपादक मैथ्यू सैमुएल को तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए। महाराष्ट्र के डीसीपी महेश पाटिल ने बताया कि उन्हें इस मामले में शिकायत की जानकारी मिली है। इस संबंध में जो भी जरूरी कदम होंगे, उठाए जाएंगे।

loading...
Loading...
Loading...
loading...