टीवी पत्रकार बनना है ? जाइये, नियुक्ति-पत्र ले आइये

कुमार सौवीर 

लखनऊ।  आप को नौकरी चाहिए ? नौकरी भी वह, जिसमें पत्रकार जैसी ठसक हो ? ठसक भी ऐसी, जिसमें चार लाख रूपया का सालाना वेतन हो? नौकरी भी सरकारी, जिसमें गाड़ी-घोड़ा, लैपटॉप, इंटरनेट, टैक्सी, हवाई यात्रा ? 9 लाख रूपयों तक का नि:शुल्क बीमा? यानी फुल-टास मस्ती?

तो फिर सच मानिये कि आपके सपनों की रंग-बिरंगी, झमाझम, चौंधियाती और सब कुछ दिला दे सकने वाली नौकरी हासिल करने के दिन आ गये। प्रतीक्षा की घडि़यां खत्म हो गयीं हैं। जो हमेशा आपके सपनों में आपको गुदगदाती रहती थी, वह नौकरी आपकी ही प्रतीक्षा में है। अब देरी मत कीजिए। तैयार हो जाइये और जा कर अपना अप्वाइंटमेंट लेटर ले जाइये।

जी हां, भारत सरकार ने आपके लिए एक पुख्ता़, बेहद पुख्ता, आरामदेह और सम्मानजनक नौकरी का ठेका दिला दिया है। डिपार्टमेंट का नाम है भारतीय दूरसंचार केंद्र। इसमें किसान पत्रकार पद के दर्जनों, सैकड़ों ही नहीं, बल्कि हजारों पदों की मंडी खोल दी गयी है। जैसे सब्जीमंडी, ठीक उसी तरह  दूर-संचार मंत्रालय में खुली नौकरियों की मंडी। पद की कोई भी सीमा नहीं रखी गयी है। जो भी जाएगा, नौकरी लेकर ही जाएगा।

सच मानिये कि इसमें नौकरी हासिल करने के लिए कोई खास शैक्षिक अर्हता तो नहीं रखी गयी है। लेकिन इसके बावजूद अगर आप पढ़े-लिखे हैं, मतलब आठवी, दसवीं या इंटर तक की पढ़ाई कर चुके हैं, तो फिर समझिये कि यहां पर आपकी नौकरी पक्की। उम्र का भी कोई लफड़ा-झझट-टंटा कत्तई नहीं। वैसे तो कहने के लिए 18 से 45 साल की उम्र वालों को यह नौकरी थमा दी जाएगी, लेकिन भारत सरकार की चूंकि आप सब पर विशेष अनुकम्पा दिख रही है, इसलिए 18 साल से कम और 45 साल से ज्यादा उम्रदराज लोगों को भी निराश नहीं किया जाएगा।

loading...
Loading...

अरे यार, यह सरकारी नौकरी है, कोई हंसी-ठट्ठा नहीं।

खैर, नौकरी पाने के बाद आपको 15 दिन का प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसके लिए आपको 13860 का शुल्क अदा करना पड़ेगा। यह शुल्क आपके प्रशिक्षण पर आने वाले खर्चा-पानी में लगेगा। न न न, इसके लिए आपको डीडी, या चेक नहीं देना होगा। यह रकम पंजाब नेशनल बैंक या स्टेट बैंक की एक शाखा के एक खास खाते में जमा करनी होगी। लेकिन भारतीय प्रसारण मंत्रालय ने वायदा किया है कि ट्रेनिंग के बाद यह रकम वापस भेज देगा।

(पोर्टल मेरी बिटिया डॉट कॉम)

Loading...
loading...