दुनिया को मानवता का ज्ञान देने वाले रविश कुमार भाई के मामले पर चुप क्यूँ हैं ?

कांग्रेसी नेताओं के कारनामे इतने पुराने और  मशहूर होते हैं कि आप अंदाजा नहीं लगा सकते . अभी अभी ताजा मामला बिहार कांग्रेस के उपाध्यक्ष ब्रिजेश पांडे का सामने आया है . जिसमे कहा गया है की यह कांग्रेसी नेता 4 सालों से एक बहुत बड़ा सैक्स रैकट चला रहा था.

जो की एक पीडिता द्वारा पुलिस में मुकद्दमा दर्ज करवाने के बाद सामने आया . जिसे लेकर सोशल मीडिया से लेकर मुख्य मीडिया ने खूब दिखाया. जिस बजह से ब्रिजेश पाण्डेय को अपनी कुर्सी गंवानी पड़ी. मगर इस मुद्दे में सबसे बड़ी दिलचस्प बात यह रही की NDTV के महान ज्ञानी (बामपंथी ) पत्रकार रविश कुमार जो की ब्रिजेश पांडे के सगे भाई है . जो हर दिन अपने प्राईम टाईम शो और रविश की रिपोर्ट के जरिये भारत की बात करने वाले भारतीयों को नैतिकता का पाठ पढ़ाते रहते हैं.

उन्होंने अपने सगे भाई के इस इस कुकर्म पर चुप्पी साधे हुए बैठे हैं. आखिर क्यूँ रविश कुमार अपने सगे भाई के बारे में देश और दुनिया को बताना नहीं चाहते ? सिर्फ इसलिए की इस बार कुकर्मी कोई और नहीं वल्कि उनका सगा भाई है.खैर रविश जी आपको देश के लोग पहले से ही जानते हैं की आप टीवी चैनल के दफ्तर में मोती तनखाह डकार कर अपना हिडन एजेंडा चलाने वाले बामपंथी पत्रकार हो. और आपको आईना दिखाने वालों को जिनको आप अक्सर गुंडे कहते हो उनकी बातों का जबाब देना इस बार भी मुश्किल लगेगा. हो सकता है पहले की तरह आप अपना फेसबुक अकाउंट कुछ दिनों के लिए डिसेबल भी कर दो. क्यूंकि आपको अब कहने को तो कुछ बचा नहीं .

loading...
Loading...

हालांकि ये एक पुराना ट्वीटहै जिसमे वो लोगों को टैग करके मानवता का ज्ञान ज्ञान बांट रहे हैं लेकिन रविश कुमार ये दोगलपन क्यूँ दिखा रहे हैं , ख़ुद के लिए नियम अलग , दूसरे के लिए नियम अलग ये कैसी निस्पक्ष पत्रकारिता ?

Loading...
loading...