NDTV इंडिया को बहुत बड़ा झटका…9 नवंबर को होगा ऑफ एयर

ndtvकेंद्र सरकार की तरफ से समाचार चैनल NDTV इंडिया को करारा झटका लगा है। सूचना प्रसारण मंत्रालय की एक कमेटी ने चैनल को गैर जिम्मेदाराना रिपोर्टिंग का दोषी मानते हुए एक दिन के लिए ऑफ एयर की सिफारिश की है। इंटर मिनिस्टर कमेटी ने चैनल को 9 नवंबर को एक दिन के लिए  ऑफ एयर करने की सिफारिश की है। चैनल पर आरोप है कि उसने पठानकोट हमले के दौरान संवेदनशील जानकारी चैनल पर दिखाई थी। जिस से आतंकियों को फायदा हो सकता था। इस मामले में एनडीटीवी चैनल को नोटिस भी भेजा गया था। सूत्रों के मुताबिक मंत्रालय अब इस बारे में चैनल से सफाई भी मांग सकता है। किसी भी चैनल को ऑफ एयर करने की सिफारिश का ये पहला मामला है।

कमेटी की सिफारिश पर 9 नवंबर को NDTV एक दिन के लिए ऑफ एयर होता है तो संवेदनशील जानकारी दिखाने और प्रोग्राम कोड तोड़ने के आरोप में ये पहला मामला होगा। सरकार ने इस मामले को काफी गंभीरता से लिया है। चैनल पर पठानकोट एयरबेस की संवेदनशील जानकारियों को उजागर करने का आरोप है। इस मामले में जांच के दौरान पाया गया कि एनडीटीवी चैनल ने पठानकोट हमले की कवरेज के दौरान गैर जिम्मेदाराना रवैया अपनाया था। उसने एयरबेस की संवेदनशील जानकारी लोगों को दिखाई । इस जानकारी का इस्तेमाल आतंकी कर सकते थे। ये देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ करने जैसा है। एनडीटीवी की इस कवरेज से आम लोगों और सुरक्षाकर्मियों के साथ साथ मीडियाकर्मियों की जान को भी खतरा उत्पन्न हो सकता था। बता दें कि पठानकोट एयरबेस में आतंकी घुस गए थे। कई घंटे की मुठभेड़ के बाद आतंकियों का खात्मा किया जा सका था।

पठानकोट हमले के दौरान एयरबेस पर मीडिया का जमावड़ा लगा हुआ था। NDTV की गैर जिम्मेदाराना रिपोर्टिंग के कारण उनकी जान भी जा सकती थी। सबसे बड़ी बात ये है कि लाइव रिपोर्टिंग आतंकी भी देख रहे थे। इस मामले में मंत्रालय के अंदर पहले एक कमेटी बनाई गई। उस कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर NDTV के खइलाफ एक्शन लिया गया है। आईबी मिनिस्ट्री ने एनडीटीवी चैनल को 9 नवंबर दोबर एक बजे से 10 नवंबर एक बजे तक ऑफ एयर रहने का आदेश दिया है। अभी तक इस मामले में एनडीटीवी की तरफ से कोई प्रक्रिया नहीं आई है। बता दें कि एनडीटीवी के हिंदी चैनल को ऑफ एयर करने का आदेश दिया गया है। अंग्रेजी वाला NDTV 24*7 है।

loading...
Loading...

अब आपको बताते हैं कि आखिर NDTV ने पठानकोट हमले की कवरेज के दौरान क्या संवेदनशील जानकारी दिखाई थी। आईबी मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक जनवरी में पठानकोट ऑपरेशन के समय NDTV इंडिया ने एयरबेस में रखे हथियारों, मिग फाइटर प्लेन, रॉकेट लॉन्चर्स, मोर्टार, हेलिकॉप्टर्स और फ्यूल टैंक्स की जानकारी चैनल पर दिखाई थी। ये जानकारी बेहद संवेदनशील  मानी जाती है। इसका इस्तेमाल आतंकियों दवारा किया जा सकता था। सरकारी सूत्रों के मुताबिक एनडीटीवी ने इन जानकारियों और कन्टेंट ने प्रोग्राम के नियम तोड़े हैं। मंत्रालय की तरफ से इस बाबत चैनल को नोटिस भी भेजा गया था। फिलहाल इस फैसले के आने के साथ ही सियासत भी शुरू हो गई है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी पर ट्वीट के जरिए निशाना साधते हुए कहा है कि सुन लो सारे चैनल वाले अगर मोदी जी की आरती नहीं उतारी तो आपका चैनल भी बंद कर देंगे।

Loading...
loading...