नेशनल दुनिया में नहीं मिला तीन महीने से वेतन

bhadas4journalist-logoनोएडा। नेशनल दुनिया के नोएडा कार्यालय में आजकल अखबार के मुख्यमहाप्रबंधक मनीष अवस्थी की कार्यशैली को लेकर व्यापक रोष व्याप्त है । पिछले कई माह से कर्मचारियो को वेतन नहीं मिला है. अपने कुछ खास को गुपचुप वेतन दिलवाया जा रहा है । मनीष के इस सौतेले रवैये से सम्पादकीय व अन्य विभाग के कर्मचारियों से आक्रोश व्याप्त है। पिछले साल मेरठ कार्यालय मे बकाया वेतन के मुददे को लेकर वहां के सम्पादक सुभाष सिंह के साथ कर्मचारियों ने अपनी गहरी नाराजगी व्यक्त की थी।
मनीष से जब कोई वेतन का तकादा करता है तो उसे हटाने की धमकी देते हैं। अखबार के प्रधान सम्पादक शैलेंद्र भदौरिया नोएडा बहुत कम आते है और मुख्य महाप्रबंधक इसी का फायदा उठाकर कर्मचारियों का शोषण कर रहे हैं । इसके अलावा बाहर से बकाया भुगतान के लिए जो पार्टी आती है उनके साथ भी अवस्थी अपनी शैली में बात करते हैं। इसी बर्ताव के कारण पिछले सप्ताह एक व्यक्ति इनसे उलझ गया था। कर्मचारियों का कहना है कि मनीष अवस्थी प्रधान सम्पादक भदौरिया को वस्तु स्थिति से अवगत नहीं कराते है उन्हें यह कहकर बर्गला दिया जाता है कि नेशनल दुनिया में सब नियंत्रण में हैं। मनीष अवस्थी को नेशनल दुनिया में जागरण से इस भरोसा पर लाया गया था कि वह अखबार की अवयवस्थाओं को ठीक कर देंगे। पर इसके ठीक विपरीत हो रहा है। कर्मचारियों का कहना है कि यदि कर्मचारियों की सम्पादक शैलेंद्र भदोरिया ने नहीं सुनी तो उन्हे श्रम विभाग और प्रधानमंत्री कार्यालय का दरवाजा खटखटाना पडेगा।

loading...
Loading...
Loading...
loading...