अब व्यापम घोटाले में छानबीन कर रहे पत्रकार की मौत

byapamव्यापमं घोटाले पर विशेष स्टोरी कर रहे ‘आज तक’ के रिपोर्टर अक्षय सिंह की झाबुआ के मेघनगर मे संदिग्ध परिस्थियो मे मौत हो गई है । अक्षय व्यापमं घोटाले मृतक नम्रता डामोर के घर मेघनगर गए थे। नम्रता का नाम व्यापमं घोटाले में आया था। इसके बाद उनका शव उज्जैन जिले में रेलवे ट्रैक के पास मिला था।
खबरों के अनुसार इंटरव्यू करने के बाद अक्षय की तबीयत अचानक खराब हो गई और बाद में उनकी मौत हो गई। इसके बाद कांग्रेस ने राज्य की बीजेपी सरकार पर इशारों ही इशारों में निशाना साधा है। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा है कि अक्षय का पोस्टमार्टम गुजरात में दाहोद में हुआ है, हैरानी की बात यह है कि कैमरे के सामने वरिष्ठ डॉक्टरों की निगरानी में होनी चाहिए। नम्रता के पिता महताब सिंह ने कहा कि अक्षय और दो अन्य लोग दोपहर में उनके घर आए थे। इंटरव्यू खत्म होने के बाद उन्होंने किसी को कुछ कागज फोटोकॉपी करवाने भेजा था। अक्षय, डोमार के घर के बाहर इंतजार कर रहे थे, तभी उनके मुंह से झाग निकलने लगा। उन्हें पहले सिविल और फिर एक निजी अस्पताल ले जाया गया, लेकिन यहां भी डॉक्टरों ने हाथ खड़े कर दिए। इसके बाद उन्हें नजदीकी दाहोद (गुजरात) ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। झबुआ के एसपी आबिद खान ने इस बात की पुष्टि की है कि अक्षय सिंह नाम के व्यक्ति की मौत मेघनगर में हुई है। व्यापमं घोटाले से जुड़ी अब तक 25 मौतें हो चुकी हैं। इस बड़े ऐडमिशन और भर्ती घोटाले में कई अधिकारियों और राजनेताओं के नाम सामने आ रहे हैं। विपक्षी दल कांग्रेस मामले की सीबीआई जांच करवाने की मांग कर रही है।

loading...
Loading...
Loading...
loading...