रिचार्ज की दुकानों पर बेचे जा रहे थे लड़कियों के मोबाइल नंबर, ऐसे तय होती थी कीमत

लखनऊ। उत्तरप्रदेश पुलिस ने एक ऐसे रैकेट का भंडाफोड़ किया है जो लड़कियों के मोबाइल नंबर बेचने का धंधा करता था। पुलिस के अनुसार मोबाइल नंबर रिचार्ज की दुकानों में बेचे जा रहे थे। 50 रूपये से लेकर 500 तक की कीमत में बेचे जा रहे इन नंबरों की कीमत लड़कियों के रंग रूप से तय होती थी।

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार पुलिस ने इस पूरे मामले का खुलासा हेल्पलाइन नंबर 1090  पर आने वाली शिकायतों के आधार पर किया। रिपोर्ट के अनुसार पिछले चार सालों में यूपी में अनजान नंबरों से परेशान करने वाले 6 लाख से ज्यादा मामले सामने आये हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है कि इन शिकायतों में 90 फीसदी मामले पुलिस से जुड़े हुए हैं। पुलिस का कहना है कि ये लोग इन नंबरों पर कॉल करके लड़कियों को परेशान करते थे। ये कॉल करके कहते थे कि ”हमें आपसे दोस्ती करनी है”। जिसके बाद लड़कियों को परेशान किया जाता था।

loading...
Loading...

शाहजहांपुर के दुकानदार मोहम्मद ने पुलिस को बतया कि वह मजे के लिए कई बार इस तरह का मजाक करता था। इसके अलावा वह अपने दोस्तों को भी नंबर देता है। वह किसी-किसी लड़की के मोबाइल पर अश्लील फोटो भी व्हाट्सएप कर देता है।

आईजी नवनीत सकेरा ने बताया कि इस तरह के कृत्य पर कोई क्राइम नहीं बनेगा। उन्होंने बताया कि हमने तीन ऐसे लोगों को गिरफ्तार किया है जिन्होंने फेक आई पर सिमकार्ड बेचे हैं। इसलिए अभी तक किसी को जेल नही भेजा जा सका है।

Loading...
loading...