अमित शाह पर राजदीप सरदेसाई ने फैलाया झूठ, फजीहत होने पर दो बार करने पड़े ट्वीट डिलीट

बार-बार अपनी फजीहत कराने वाले पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने एक बार फिर से केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के खिलाफ फर्जी खबरें फैलाने की कोशिश की। अमित शाह ने दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 के मद्देनजर गुरुवार (जनवरी 23, 2019) को दिल्ली के मटियाला में एक जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने इस बारे में भी बात की कि दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल किस तरह से वहाँ की जनता को बुनियादी सुविधाएँ उपलब्ध कराने में असफल रहे।

सभा को संबोधित करते हुए शाह ने यह भी आरोप लगाया कि AAP नेता ने दिल्ली की जनता से जो वादे किए थे, उन्हें भूल गए। उन्होंने कहा, “अगर झूठे वादे करने की देश में कोई प्रतियोगिता होती, तो केजरीवाल को निश्चित रूप से पहला पुरस्कार मिलेगा। मैं केजरीवाल को याद दिलाने के लिए आया हूँ कि आप तो अपने किए गए वादों को भूल गए, लेकिन न तो दिल्ली की जनता और न ही भाजपा कार्यकर्ता भूले हैं। आपके पास शायद इसकी सूची नहीं है, लेकिन मेरे पास है।”

साथ ही अमित शाह ने केजरीवाल द्वारा किए गए झूठे वादों को सूचीबद्ध करते हुए अशुद्ध पेयजल से लेकर मुफ्त वाईफाई के दावे, नए स्कूल खोलने के दावे, सीसीटीवी कैमरे लगाने की बातें, नौकरी, डीटीसी बसों और आयुष्मान भारत योजना को बंद करने जैसे मुद्दों पर बात की। दरअसल शाह ने अपने इस भाषण में अधिकतर समय लोगों की बुनियादी जरूरतों से संबंधित मुद्दों पर जोर दिया।

राजदीप सरदेसाई का पहला झूठा ट्वीट

मगर राजदीप सरदेसाई जैसे पत्रकार ने दावा किया कि गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली में एक उग्र भाषण दिया। जहाँ उन्होंने केवल नागरिकता संशोधन कानून (CAA), अनुच्छेद 370 और राम मंदिर पर बात की। इसके बाद राजदीप ने कहा कि अमित शाह ने बिजली, स्कूल या अस्पताल के बुनियादी मुद्दों पर एक शब्द भी नहीं बोला। सरदेसाई ने आगे कहा, “एक पल के लिए, मुझे लगा कि हम अभी भी 2019 के लोकसभा चुनाव मोड में ही थे।”

जैसे ही सोशल मीडिया यूजर्स ने राजदीप सरदेसाई के झूठ का पर्दाफाश किया, उन्होंने अपना विवादास्पद ट्वीट डिलीट कर दिया।

राजदीप सरदेसाई का दूसरा विवादास्पद ट्वीट

इसके बाद पत्रकार ने एक दूसरा ट्वीट किया। जिसमें उन्होंने पिछले ट्वीट में कुछ बदलाव किया और लिखा कि अमित शाह ने अपने भाषण में आर्टिकल 370, CAA, पाकिस्तान, राम मंदिर जैसे मुद्दों पर जोर डाला और बिजली, आवास एवं शिक्षा के मुद्दों पर बहुत कम बात की। जबकि राजदीप ने अपने पहले ट्वीट में साफ-साफ लिखा था कि अमित शाह ने लोगों की बुनियादी जरूरतों के बारे में एक शब्द भी नहीं बोला।

loading...
Loading...
Er. Sanjay Malhotra@sanjaymalhot

I too heard the speech. Amit Shah talked of Bijli, education, Health etc for MOST part of his speech. Only the last 15 minutes he talked of CAA, Kashmir etc which too are important issues
Rajdeep should STOP misleading the viewers/ readers.

68 people are talking about this

हालाँकि, उन्हें अपने दूसरे ट्वीट को भी डिलीट करना पड़ा क्योंकि सोशल मीडिया यूजर्स ने एक बार फिर से उनके झूठ का पर्दाफाश कर दिया। उन्होंने पत्रकार को बताया कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अपने भाषण में काफी सारे बुनियादी मुद्दों पर जोर दिया और दिल्ली सरकार की विफलताओं पर प्रकाश डाला। साथ ही गृह मंत्री ने दिल्ली के 2015 के चुनाव के दौरान केजरीवाल द्वारा किए गए वादों के असफलता के बारे में बताया।

अमित शाह ने भाषण में कहा था, “आपने कहा था कि आप एक हजार स्कूल बनाओगे, जरा बताएँ कि कितने स्कूल बनाए। 15 लाख सीसीटीवी कैमरा लगाने की बात कही थी और कुछ ही सीसीटीवी लगाकर जनता को बेवकूफ बना रहे हो।”

उन्होंने कहा, “केजरीवाल जी ने 5,000 डीटीसी की बसें लाने की बात कही थी, सिर्फ 300 बसें ही लाए। 8 लाख लोगों को नौकरी देने की बात कही थी, लेकिन पहले के अस्थाई कर्मचारियों को ही स्थाई नहीं किया। आपने कहा था कि यमुना स्वच्छ कर देंगे, लेकिन आपने यमुना स्वच्छ करने की तो दूर की बात है जो हमारे घर में पानी आता था वो गंदा कर दिया। आज पूरे भारत में सबसे खराब पानी दिल्ली की जनता को मिल रहा है। यमुना जी को स्वच्छ करने की आप के बूते की बात नहीं है। मोदी जी और योगी जी ने गंगा स्वच्छ करने का काम किया है और यमुना भी हम ही स्वच्छ करेंगे।”

आगे शाह ने कहा, “केजरीवाल ने नए-नए फ्लाई ओवर बनाने की बात कही थी, वो तो बनाए नहीं और मोदी जी जो फ्लाई ओवर बना रहे हैं, उन पर भी रोड़ा अटका रहे हैं। केजरीवाल ने कहा था कि दिल्ली की अनधिकृत कॉलोनियों को हम अधिकृत कर देंगे। लेकिन हमेशा इस काम में अड़ंगा लगाया। नरेन्द्र मोदी जी ने दिल्ली के करीब 1,731 अनाधिकृत कॉलोनियों के लोगों को 5 हजार रुपए में अपने घर का मालिकाना हक देने का काम किया है।” उन्होंने अस्पताल और मेट्रो पर भी बात की।

जैसा कि राजदीप ने अपने ट्वीट में दावा किया था कि अमित शाह ने अपने भाषण में CAA का उल्लेख किया। बता दें कि अमित शाह ने भाषण में CAA का जिक्र जरूर किया था, लेकिन उनके भाषण के अंतिम हिस्से में। उन्होंने प्रधानमंत्री की प्रशंसा करते हुए कहा, “नरेंद्र मोदी ने देश को प्रगति के पथ पर आगे ले जाने के लिए काम किया है। नरेंद्र मोदी ने दुनिया में देश का सम्मान बढ़ाने का काम किया है। मोदी जी ने अपनी ही धरती पर देश के दुश्मनों को मारने का काम किया है।” इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि अगर अफगानिस्तान, पाकिस्तान और बांग्लादेश के उत्पीड़ित अल्पसंख्यक यहाँ नहीं आएँगे तो फिर कहाँ जाएँगे? गौरतलब है कि दिल्ली विधानसभा के 70 सीटों पर 8 फरवरी 2020 को चुनाव होंगे। इसके नतीजे 11 फरवरी 2020 को घोषित किए जाएँगे।

Loading...
loading...