शाहजहांपुर के पत्रकार जगेंद्र की पत्नी धरने पर बैठी, हालत बिगड़ी

शाहजहांपुर के पत्रकार जगेंद्र की पत्नी धरने पर बैठी, हालत बिगड़ीपति जगेंद्र सिंह की हत्या में आरोपी राज्यमंत्री राममूर्ति सिंह वर्मा की बर्खास्तगी समेत चार मांगों को लेकर परिवार के लोगों द्वारा दिए जा रहे धरने के दूसरे दिन जगेंद्र सिंह की पत्नी सुमन सिंह की हालत बिगड़ गई। मौके पर ही स्वास्थ्य परीक्षण कराकर इलाज शुरू किया गया।इससे पहले दिन भर नेताओं का जमावड़ा रहा। कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव प्रकाश जोशी संग पहुंचे पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद ने धरना स्थल पर परिवार के लोगों से बात करके उन्हें पूरी मदद का भरोसा दिया। इसी प्रकरण के चलते सपा से निष्कासित पूर्व विधायक और राममूर्ति के विरोधी देवेंद्र पाल सिंह भी परिवार वालों के साथ धरने पर बैठ गए।वहीं कांग्रेस की महिला जिलाध्यक्ष शारदा थापा और भाजपा की रागिनी सिंह अपने कार्यकर्ताओं के साथ धरने में शामिल हो गईं। भारी भीड़ के बीच दिन भर सरकार और राज्यमंत्री के खिलाफ नारेबाजी का क्रम चलता रहा, पूर्व सांसद मिथिलेश कुमार के खिलाफ भी जमकर नारे लगे। इस बीच डीएम और एसपी ने खुटार पहुंचकर परिवार वालों से मुलाकात की और सुरक्षा का आश्वासन दिया।गौरतलब है कि जगेंद्र सिंह की मौत के मामले में अब तक राममूर्ति सिंह के खिलाफ कार्रवाई न होने पर परिवार वालों ने रविवार से घर के पास धरना प्रदर्शन शुरू किया है। उनकी मांग मुआवजा देने व जगेंद्र के दोनों बेटों को नौकरी देने की बई है।सोमवार को दूसरे दिन धरने पर बैठी जगेंद्र की पत्नी सुमन सिंह की हालत देर शाम अचानक बिगड़ गई। वह धरना स्थल पर ही बेहोश होकर गिर पड़ी। सुमन की हालत बिगड़ते ही मौके पर मौजूद अधिकारियों ने हड़कंप मच गया।एसडीएम लालबहादुर ने मामले की जानकारी तुरंत सीएमओ को दी। सीएमओ के निर्देश पर खुटार के सरकारी अस्पताल से फार्मासिस्ट अखिलेश सिंह आदि मौके पर पहुंचे और सुमन के स्वास्थ्य की जांच की। उन्हें दवाएं आदि देकर ग्लूकोज लगाया गया है। अखिलेश सिंह का कहना है कि कई दिन से भोजन नहीं करने के कारण ब्लड प्रेशर लो होने के कारण कमजोरी और घबराहट के लक्षणों का इलाज किया जा रहा है।

loading...
Loading...
Loading...
loading...