गया का पत्रकार हत्याकांड : बड़े भाई ने ही करवायी मिथिलेश की हत्या

hatya2बिहार के गया में 24 अक्तूबर की रात परैया थाना क्षेत्र के कष्ठा गांव में हुई पत्रकार मिथिलेश पांडेय की हत्या का खुलासा एसआइटी (स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम) ने कर लिया है. एसआइटी ने हमलावरों की टीम में शामिल परैया थाना क्षेत्र के सोलरा के रहनेवाले सत्येंद्र यादव को गिरफ्तार किया. सत्येंद्र से पुलिस ने एक आॅल्टो कार, एक कट्टा व दो कारतूस भी बरामद किये. पूछताछ में सत्येंद्र ने बताया कि पत्रकार की हत्या का साजिशकर्ता उसका बड़ा भाई बिंदेश्वरी पांडेय ही है. इस खुलासे के बाद बिंदेश्वरी पांडेय को गिरफ्तार करने के लिए एसआइटी कोर्ट से वारंट लेने की तैयारी कर रही है.

ये बातें अपने कार्यालय में आयोजित प्रेसवार्ता में एसएसपी मनु महाराज ने कहीं. एसएसपी ने बताया कि पत्रकार का बड़ा भाई बिंदेश्वरी पांडेय अपनी बेटी का विवाह पैतृक जमीन बेच कर करना चाहता था, लेकिन, पत्रकार मिथिलेश पांडेय उसमें अड़चन डालता रहता था. इसी से क्षुब्ध होकर बिंदेश्वरी पांडेय ने पत्रकार की हत्या की साजिश रचनी शुरू कर दी. उसने मगध मेडिकल थाना क्षेत्र  के नावाडीह के रहनेवाले देवलाल पासवान से संपर्क किया और उससे पत्रकार मिथिलेश पांडेय की हत्या करने के बदले उसे पांच बीघा जमीन देने का सौदा किया.

इसके बाद देवलाल पासवान ने परैया थाना क्षेत्र  के सोलरा के रहनेवाले सत्येंद्र यादव व राजा यादव को मिथिलेश की हत्या कराने के लिए राजी किया. एसएसपी ने बताया कि रणनीति के अनुसार, गत 24 अक्तूबर की रात राजा यादव, सत्येंद्र यादव, देवलाल पासवान व उसके साथ आया एक अन्य व्यक्ति हथियार के साथ पत्रकार के घर में घुसा और गोली मार कर मिथिलश की हत्या कर दी.

loading...
Loading...

एसएसपी ने बताया कि प्रारंभिक जांच में हत्याकांड में आरोपित बनाये गये पत्रकार की साली मंजू देवी व राजा यादव को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया. उस समय तक राजा यादव इस हत्याकांड में अपनी संलिप्तता से इनकार करता रहा. लेकिन, जांच में जुटी एसआइटी ने जब सत्येंद्र यादव को ठोस सबूतों के आधार पर गिरफ्तार किया, तो उसने खुलासा किया कि पत्रकार ही हत्या साजिश उसके ही बड़े भाई बिंदेश्वरी पांडेय ने रची है.

इस हत्याकांड में राजा यादव भी शामिल था. राजाको कोर्ट से रिमांड पर लेकर जेल से बाहर लाया गया. इसके बाद राजा व सत्येंद्र को आमने-सामने कर पूछताछ की गयी, तो पत्रकार हत्याकांड का खुलासा हुआ. हत्याकांड में प्रयोग में लायी गयी कार भी बरामद कर ली गयी है. एसएसपी ने बताया कि पत्रकार के बड़े भाई बिंदेश्वरी पांडेय को गिरफ्तार करने के पहले पुलिस को कोर्ट से वारंट लेने का निर्देश दिया है. चूंकि, इस मामले में जेल में बंद पत्रकार की साली मंजू देवी के विरुद्ध सबूत नहीं मिले हैं. कोर्ट में उनके पक्ष में कागजात पेश किये जायेंगे, ताकि उसे जमानत मिल सके.

Loading...
loading...