हार्दिक की सेक्स सीडी लाने वाले को इनाम, मंत्री की सीडी पर पत्रकार को जेल

भाजपा वाले भी कमाल करते हैं साहब। विरोधियों की सेक्स सीडी आएगी तो हल्ला मचा देंगे। और अपने नेता फंसेंगे तो खुलासा करने वाले को जेल में भिजवा देंगे। हार्दिक पटेल और राजेश मूड़क की सेक्स सीडी के मामले में भाजपा के अलग-अलग रुख को देखकर यह चर्चा सोशल मीडिया पर चल रही है।

अश्विन पटेल की थपथपाई जा रही पीठ

पाटीदारों की नाराजगी गुजरात चुनाव में  भाजपा के लिए चिंता का सबब रही। ऐसे वक्त में जब चुनावी सरगर्मियां शबाब पर हैं, तब हार्दिक पटेल की सेक्स सीडी लीक करने वाले अश्विन पटेल की भाजपा में पीठ थपथपाई जा रही है। सूत्र बता रहे हैं कि शाह की टीम ने भी अश्विन पटेल को शाबाशी दी है। गुजरात के अन्य भाजपा नेता भी  सीडी के जरिए हार्दिक को बैकफुट पर लाने के लिए अश्विन की तारीफ करते नहीं थक रहे हैं।  सूत्र बता रहे हैं कि सरकार बनने पर पाटीदार चेहरे अश्विन को अहम जिम्मेदारी मिलने का आश्वासन भी दिया गया है।

मंत्री की सीडी पर भेजवा दिया जेल

loading...
Loading...

छत्तीसगढ़ के मंत्री राजेश मूड़क की सेक्स सीडी बीते दिनों सामने आई तो ब्लैकमेलिंग के आरोप में दिल्ली के पत्रकारव विनोद वर्मा को रातोंरात पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। मंत्री के वीडियो के मामले में पुलिस ने इतनी जल्दबाजी कि पत्रकार को देर रात तीन बजे आवास से गिरफ्तार किया। जिसको लेकर कोर्ट में पुलिक को फटकार भी झेलनी पड़ी। 27 नवंबर तक पत्रकार विनोद वर्मा न्यायिक हिरात में हैं।

सोशल मीडिया पर सवाल उठ रहे कि अपना मंत्री फंसने पर वीडियो लीक करने पर पत्रकार को जेल भिजवा दिया गया, वहीं राजनीतिक विरोधी हार्दिक की सीडी लीक करने पर पार्टी नेता की पीठ क्यों थपथपाई जा रही है।

हार्दिक की सीडी का क्या है मामला पाटीदार नेता अश्विन पटेल ने दावा किया है कि वीडियो में जिस व्यक्ति को लड़की के साथ दिखाया गया है वो हार्दिक पटेल ही हैं. हालांकि हार्दिक पटेल ने वीडियो को फ़र्ज़ी क़रार दिया है. उन्होंने कहा कि गंदी राजनीति के तहत महिला का दुरुपयोग किया जा रहा है। हार्दिक ने गांधीनगर में मीडिया से कहा, “मैं वीडियो में नहीं हूं. बीजेपी गंदी राजनीति के तहत महिला का इस्तेमाल कर रही है.”

Loading...
loading...