मी मराठी न्यूज़ चैनल में पत्रकारों की सेलरी बंद

मी मराठी न्यूज़ चैनल में पत्रकारों की  सेलरी बंद
बेबाक राशिद सिद्दीकी
जीवन समृधि फाइनेंस कम्पनी के मालिक महेश मोतेवार एक बार फिर चर्चा में है क्योंकि उनके चैनल मी मराठी और लाइव इंडिया पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं. खबर है कि चैनल में कुछ पत्रकारों को छोड़कर अधिकांश की सेलरी बंद कर दी गई है। एक सूत्र ने बताया कि जब वह पुणे स्थित स्वार गेट के मी मराठी ऑफिस में नौकरी मांगने गया तो उसे तुरंत नियुक्त कर लिया गया पर जैसे ही सेलरी की बात होने लगी तक मेनेजमेंट के अधिकारी ने कहा कि हमने रिपोर्टरों की सेलरी बंद कर दी है आप खबर लेकर आओ हम खबर देंगे फिर क्या करना है देखेंगे। बताया जा रहा है कि उस अधिकारी ने कुछ खास संकेत दिए जो पत्रकारीय मानदंडों के खिलाफ था इसलिए मैंने वहां नौकरी ज्वाइन नहीं किया।

चैनल के करीबी सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक मी मराठी चैनल में काम कर रहे कुछ रिपोर्टरों की सेलरी मार्च २०१५ से बंद कर दी गई है.सेलरी बंद किए गए पत्रकारों में पुणे,औरंगाबाद , नासिक, सोलापुर, कोल्हापुर, परभनी, उस्मानाबाद जैसे शहरों के रिपोर्टर शामिल है. उड़ती उड़ती खबर है कि इन पत्रकारों ने सेलरी बंद करने पर कुछ और ही करना शुरू कर दिया है। जब चैनल के मालिक महेश मोतेवार से उनके मोबाईल नंबर पर बात करने की कोशिश की गई तो उन्होंने कुछ बोलने से इंकार कर दिया।
आपको बता दें कि जब यह चैनल मुंबई के नाम चीन बिल्डर दीवान के पास था तब इस समय चैनल के मुखिया रवि तिवारी थे रवि तिवारी इंडिया टीवी और एनडीटीवी में लम्बी पारी खेल चुके थे जब इस चैनल को मोतेवार ने ख़रीदा तो रवि तिवारी को मीटिंग के लिए पुणे भंडारकर रोड बुलाया गया। जहां आयर मोतेवार ने अपनी पोलिसी के बारे में बताया परन्तु रवि तिवारी एक सच्चे पत्रकार थे उन्होंने मोतेवार कि पोलिसी को ठुकराते हुए चैनल से इस्तीफा दे दिया था.

loading...
Loading...
Loading...
loading...