नंबर वन बनने की चाहत में हिंदुस्तान ने कराया बबाल

नंबर वन बनने की चाहत में हिंदुस्तान ने कराया बबाल
हिंदुस्तान अख़बार ने आगे बढ़ने की चाहत में बिना आधिकारित पुष्टि किये प्रत्याशियों को पंचायत चुनाव जीता दिया। दरअसल पंचायत चुनाव की वोटिंग देर रात तक चली। कुछ प्रत्याशी आगे चल रहे थे। लेकिन जीते नहीं थे। हिंदुस्तान के ब्यूरो चीफ अनिल शर्मा ने आगे बढ़ने के चक्कर में वोटिंग में आगे चल रहे प्रत्याशियों को जीता हुआ घोषित कर दिया। यह सब अनुमान के आधार पर घोषित किये गए। कई प्रत्याशी तो जीत गए लेकिन एक प्रत्याशी हीरा कुछ वोटों से हार गया। जबकि हिंदुस्तान ने उसे जीता हुआ घोषित कर दिया। इस पर अगले दिन बबाल हो गया। हीरा के समर्थन में महिलाओं ने डी ऍम ऑफिस में बबाल मचा दिया। हिंदुस्तान की खबर को आधार बनाकर जमकर विरोध प्रदर्शन किया गया। पुलिस को महिलाओं पर लाठीचार्ज करना पड़ा। इसके बाद डी ऍम बी. चन्द्रकला ने हिंदुस्तान के ब्यूरो चीफ को जमकर खरी खोटी सुनाई। डी ऍम ने मामले की शिकायत संपादक सुयकांत द्विवेदी और शशि शेखर से भी की है।

loading...
Loading...
Loading...
loading...