मंगलवार सुबह दूरदर्शन के विडियो एग्जिक्यूटिव के.टी. राजशेखर संदिग्ध हालात में मृत पाए गए

लखनऊ के विभूतिखंड के दूरदर्शन कॉलोनी में मंगलवार सुबह दूरदर्शन के विडियो एग्जिक्यूटिव के.टी. राजशेखर संदिग्ध हालात में मृत पाए गए। 55 वर्षीय राजशेखर का शव उनके घर के बेडरूम में मिला, जिससे कॉलोनी में हड़कंप मच गया।

घटना की जानकारी तब मिली जब मंगलवार सुबह 8 बजे काम करने आई नौकरानी पानमती के कई बार दरवाजा खटखटाने के बावजूद भी दरवाजा नहीं खुला, जिसके बाद वो लौट गई। डेढ़ घंटे बाद वह दोबारा उनके फ्लैट पर पहुंची, तब भी दरवाजा नहीं खुला। इसके बाद उसने पड़ोसियों को बताया तो लोगों ने पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पहुंची पुलिस जब घर का दरवाजा काटकर अंदर घुसी तो देखा कि केटी राजशेखर का शव औंधे मुंह बेड के पास पड़ा हुआ था। उनकी नाक से खून बह रहा था। मेज पर शराब की बोतल रखी थी। पुलिस ने परिजनों को इसकी सूचना दे दी और शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।

बेंगलुरु निवासी के.टी. राजशेखर विराजखंड स्थित दूरदर्शन कॉलोनी के फ्लैट नंबर ई-2 में रहते थे। वे लखनऊ दूरदर्शन में बतौर विडियो एग्जिक्यूटिव काम करते थे। तीन महीने पहले ही उनका तबादला मुंबई दूरदर्शन केंद्र में हो गया था।

loading...
Loading...

इंस्पेक्टर विभूतिखंड बृजेश कुमार राय ने बताया कि राजशेखर ने अभी रूम खाली नहीं किया था। घर में काफी समान पड़ा हुआ था, जिसको ले जाने के लिए सोमवार को मुंबई फ्लाइट से लखनऊ आए हुए थे। पुलिस ने जब पड़ोसियों से पूछा तो उन लोगों ने बताया कि वह शराब ज्यादा पीते थे।

प्रथम दृष्टया यही आशंका व्यक्‍त की जा रही है कि राजशेखर ज्यादा शराब के सेवन करने और भारी शरीर होने के कारण खुद को संभाल नहीं पाए। कमरे में किसी ठोस वस्तु से टकराकर गिरने से उनकी मौत हुई है। पुलिस ने बताया कि राजशेखर के मुंह और दांत में चोट के निशान पाए गए हैं। आगे की कार्रवाई पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद की जाएगी।

Loading...
loading...