प्रद्यूम्न हत्याकांडः मां की ममता और पिता के दर्द को बेचते चैनलों की स्याह हकीकत

रेयान इंटरनेशनल स्कूल में मासूम प्रद्यूम्न की हत्या से देश भर में लोग आहत हैं. प्रद्यूम्न के मां और पापा के अंदर भावनाओं का ज्वार किस कदर अपने जिगर के टुकड़े के लिए उमड़ता होगा इसे हर मां बाप समझ रहे हैं. प्रद्युम्न की मौत उसके मां बाप के लिए एक ऐसा दर्द है जिसे सीने में लिए इन्हें बाकी जिदंगी काटना काफी मुश्किल होगा. दूसरे अभिभावकों के लिए यह दर्दनाक हत्या, एक सदमा और सबक दोनों है. लेकिन आप को जानकर बेहद दुख होगा कि मासूम की हत्या के बाद उसके मां और पापा का बयान समाचार चैनलों के लिए सोने का टुकड़ा हो गया है. जिसे पाने के लिए समाचार चैनल के क्रू किसी भी हद तक संवेदनहीन बन सकते हैं. आपको देखकर घृणा होगी की जिस इंसान के बेटे की दर्दनाक हत्या हुई हो उसे एक सामान की तरह लूटने की कोशिश  हो रही है और वह बेचारा बचने के लिए दुहाई दे रहा है.

वीडियो के जरिये सामने आया चैनलों का चेहरा

टीवी स्क्रीन पर गम में डूबा चेहरा लिए एंकर,गम वाले म्यूजीक के साथ जब प्रद्युम्न की खबर पढ़ता है, उसके मां और पापा के लिए संवेदना की चासनी में लपेटे हुए शब्दों का इस्तेमाल करता है. तो एक आम दर्शक टीवी स्टूडियों में बैठे इन एंकरों के अभिनय को सच मानता है. भारत के दो प्रतिष्ठित अंग्रेजी समाचार चैनल के लिए प्रद्यूम्न की मौत कितना संवेदनशील मसला है उसे यह वायरल वीडियो देखकर आप समझ पायेंगे.

वायरल वीडियो में क्या है

11 सितंबर का यह वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है. वीडियो मासूम प्रद्यूम्न के पापा वरूण ठाकुर के लाईव के दौरान किसी ने शूट किया है. वीडियो में वरूण ठाकुर टाईम्स नाउ चैनल के लाईव डिवेट शो न्यूज आवर में एंकर नाविका कुमार के साथ अपने घर से ही लाईव हैं. उसी कमरे में वहां रिपब्लिक टीवी की भी टीम है. काले कपड़ों में रिपब्लिक टीवी की महिला कर्मचारी वरूण ठाकुर के साथ अभद्रता की हदें पार कर देती है. महिला किसी खन्ना जी से फोन पर निर्देश लेती दिख रही है. निर्देश लेने के साथ-साथ उसकी अभद्रता जारी रहती है. मासूम प्रद्यूम्न के पिता शालीनता से अपनी परेशानी का इजहार करते दिख रहे हैं. लेकिन प्रद्यूम्न की मौत को रिपब्लिक की महिला कर्मचारी कोई तमाशा समझ रही है.

loading...
Loading...

पहले यह वीडियो देखिये फिर टाईम्स नाउ के उस कार्यक्रम का प्रसारित वीडियो इसके बाद है.

टाईम्स नाउ के लाईव डिबेट शो के इस वीडियो में 5 मिनट के बाद से लेकर 7.40 मिनट तक रिपब्लिक के महिला कर्मचारी की हरकतें कैद है. नावीका कुमार एंकरिंग करते हुए समझ पा रही थी कि वरूण ठाकुर के साथ क्या हो रहा है.

टाईम्स नाउ पर लाईव के बाद वरूण ठाकुर को मजबूरन अर्नव गोस्वामी के रिपब्लिक टीवी पर बैठना पड़ा. अर्नव गोस्वामी की भाव भंगिमा देखकर आप को लगेगा की अर्नव बेहद दुखी है. लेकिन क्या वाकई दुख था, यह सवाल तो उठेगा ही.

इस दौर में जब पत्रकार और पत्रकारिता के पेशे को लेकर सबसे ज्यादा चिंता जताई जा रही है. एक पिता जिसने अपना मासूम लाल खोया है उसके साथ टीवी क्रू की हरकत बेहद अफसोस जनक है. हलाकि यह संभव है कि अर्नव को इसकी जानकारी तब नहीं रही हो, लेकिन अब जबकि वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो चुका है तो अर्नव गोस्वामी को पत्रकारिता के पेशे को कलंकित करनेवाली उनके ही टीवी चैनल की इस महिला कर्मचारी पर कारर्वाई करना चाहिए. क्योंकि इस महिला कर्मचारी को खबरों के संवेदनशीलता की समझ टीवी सीरयल के टीआरपी से ज्यादा नही है.

Loading...
loading...